23 Views

चाहे अनेक मंदिर गिरने दो
संस्कृति भी डूबने दो
धर्म भी समाप्त होने दो…
हमपर कोई फर्क नहीं पडता है

अगर ऐसी ही धारणा अनेक
हिंदुओं की होगी ?
तो क्या ऐसे भयंकर लोगों को
ईश्वर भी बचा पायेगा ?

बोलो…???

विनोदकुमार महाजन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!